Shayari

हमे इस बात से कोई फर्क नही पड़ता अापने किसे चाहा और कितना चाहा,
हम तो सिर्फ इतना जानते है हमने तो सिर्फ आपको चाहा और हद से ज्यादा चाहा।


Shayari

अब हम उनसे नही करते है ज्यादा बात,
क्योंकि उनसे मिलके रोक नही पाते है हम अपने जज्बात।


Shayari

तुझे बड़ी शिद्दत से चाहा है मैंने, तुझे बड़ी मन्नतो से पाया है मैंने, तुझे भुलाने की मैं सोच भी नही सकता,
क्योंकि तुझे हाथो की लकीर से चुराया है मैंने।


Shayari

मिलना है तुझसे बिछड़ने से पहले,
पाना है तुझे खोने से पहले,
और तेरे साथ जीना है मुझे मरने से पहले।


love shayari

तेरी यादे भी क्या गजब की थी उनमे मैं चूर हो रहा हूँ,
लिखता हूँ सिर्फ तेरे ही बारे में और मशहूर हो रहा हूँ।

Scroll to Top